भारत में ३० वर्ष की प्रगति पर निर्माण करते हुए।

पर्किन्स इंडिया हर दिन समस्त भारत में बच्चों के जीवन को बदल रहा है। १९९० के दशक से, हमने बहुदिव्यांगता से ग्रस्त बच्चों की जरूरतों को पूरा करने के लिए शिक्षकों, विद्यालयों और गैर सरकारी संगठनों की सहायता करने के लिए जमीनी स्तर पर तकनीकी विशेषज्ञता प्रदान की है। हम आज भारत में बहुदिव्यांगता और दृष्टिदिव्यांगता से ग्रस्त बच्चों की शिक्षा के लिए प्राथमिक संसाधन हैं।

पर्किन्स इंडिया को दृष्टि दिव्यांगता की शिक्षा के क्षेत्र में लगभग दो शताब्दियों से वैश्विक नेतृत्व और विशेषज्ञता प्राप्त पर्किन्स स्कूल फॉर द ब्लाइंड का समर्थन प्राप्त है — जो एक वैश्विक ट्रेलब्लेज़र( नवनवप्रवर्तक), संयोजक, लर्निंग लैब और दृष्टिदिव्यांगता और बहुदिव्यांगता से ग्रस्त बच्चों के लिए चैंपियन है, और संयुक्त राज्य अमेरिका का दृष्टि दिव्यांगता से ग्रस्त बच्चों के लिए पहला विद्यालय भी है।

एक वयस्क की उंगली को छूते हुए मुस्कुराता हुआ एक बच्चा

स्टाफ प्रोफाइल

हमारे कार्यक्रम

पर्किन्स इंडिया नेत्र अस्पतालों और स्थानीय शिक्षा संगठनों के साथ साझेदारी करता है जो आसपास के समुदायों में बच्चों और परिवारों को प्रदान की जाने वाली सेवाओं के केंद्र के रूप में काम करते हैं। हम दिव्यांगता से ग्रस्त बच्चों के लिए नए शैक्षणिक कार्यक्रम स्थापित करके, मौजूदा सेवाओं को मजबूत करके, स्वास्थ्य देखभाल और शिक्षा पेशेवरों को प्रशिक्षण देकर और परिवारों को व्यक्तिगत सहायता प्रदान करके बाधाओं को दूर कर रहे हैं । हमारा लक्ष्य न केवल इन बच्चों के लिए विद्यालय में दाखिला लेना संभव बनाना है, बल्कि यह भी सुनिश्चित करना है कि उन्हें जो शिक्षा मिलती है वह सार्थक हो और उन्हें अपनी क्षमता को पूरा करने और समाज के एक योगदानकर्ता सदस्य के रूप में बन सकें ।

पर्किन्स इंडिया मॉडल अनुकरणीय है और राज्य और स्थानीय सरकार के भीतर समर्थन की स्थायी प्रणाली बनाता है जो आने वाली पीढ़ियों के लिए उपलब्ध होगी । पूरे भारत में काम करते हुए, हम अपने स्थानीय साझेदारों के माध्यम से कार्यक्रमों की स्थानीय क्षमता के निर्माण के लिए उत्तर प्रदेश राज्य में गहन कार्य पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

वैश्विक विशेषज्ञता

पर्किन्स इंडिया के पास पर्किन्स इंटरनेशनल के विश्व-प्रसिद्ध विशेषज्ञों तक पहुंच है, जो पर्किन्स स्कूल फॉर द ब्लाइंड का एक प्रभाग है। पर्किन्स इंटरनेशनल ने ९२ देशों में दिव्यांगता से ग्रस्त बच्चों और उनके परिवारों को शिक्षित और सशक्त बनाने के लिए काम किया है।

पर्किन्स इंटरनेशनल का शैक्षिक नेतृत्व कार्यक्रम (ईएलपी) दुनिया भर के दृष्टि दिव्यांगता और अन्य विशेष शिक्षा पेशेवरों के शिक्षकों के लिए नौ महीने का उन्नत प्रशिक्षण कार्यक्रम है। ईएलपी को पूरा करना रूपांतरकारी है। इससे पढे हुए स्नातक परिवर्तनकारी के रूप में एक प्रमुख प्रणालीगत, सतत प्रगति को लागू करने के लिए सुसज्जित होकर घर लौटते हैं। ईएलपी स्नातकों द्वारा दृष्टि दिव्यांगता, बधिरांधता और बहु दिव्यांगता से ग्रस्त अनगिनत बच्चों के जीवन पर वैश्विक प्रभाव पड़ता है।

एक विश्व मानचित्र में फीता द्वारा बोस्टन शहर को कई देशों से जोड़ते हुए दिखाया गया है

संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) के प्रति हमारी प्रतिबद्धता

गुणवत्तापूर्ण शिक्षा (एसडीजी ४ )

दिव्यांगता से ग्रस्त बच्चों के शिक्षा से वंचित होने की सबसे अधिक संभावना होती है। हम यह सुनिश्चित करने के लिए काम करते हैं कि वे शामिल हों ।

अच्छा स्वास्थ्य और कल्याण (एसडीजी ३ )

दिव्यांगता से ग्रस्त बच्चे का सफर अक्सर चिकित्सा क्षेत्र में शुरू होता है। हम यह सुनिश्चित करते हैं कि बच्चों का उचित आंकलन किया जाए और उन्हें शिक्षा की ओर अग्रसर किया जाए।

एसडीजी की तरफ से भागीदारी (एसडीजी १७)

साझेदारी – वैश्विक, क्षेत्रीय, राष्ट्रीय और स्थानीय स्तर पर – सफल परिणामों की ओर ले जाती है। बच्चों को सर्वोत्तम संभव शुरुआत देने के लिए हम सभी स्तरों पर साझेदारी कर रहे हैं।

अपनी विशेषज्ञता साझा कर रहे हैं ।

विशेषज्ञों की हमारी टीम शिक्षकों और समुदाय-आधारित पुनर्वास कार्यकर्ताओं के लिए सूचना और संसाधनों का विकास और प्रचार-प्रसारकरती है जो बहुदिव्यांगता और दृष्टिदिव्यांगता से ग्रस्त बच्चों को सेवाएं प्रदान करते हैं।